गुरुवार, 10 मार्च 2011

सोनिया जी वरुण की शादी में जातीं तो उनका ही मान बढता ..


- अरविन्द सिसोदिया 
      आखिर इंदिरा गांधी की दो संतानों में से एक संजय थे .., उनकी सगी देवरानी ही तो मेनका थी .., और वरुण गांधी  भी सगे ही थे , सोनिया गांधी स्वंय पहुचती तो उनका ही मान बड़ता...! ख़ैर जब वे पूरी तरह से इंदिराजी की छोड़ी विरासत को अपने नाम कर चुकीं हैं तो अब उसमें मेनका या वरुण का क्या काम...! राजनीती के इतने  बड़े पद पर और अपने आपको त्याग की मूर्ती कहल्वानें के बाद ..., इतनी छोटी की बात पर अनावश्यक दूरी बनानें से उनका ही कद छोटा हुआ है ...! सोनिया जी वरुण की शादी में जातीं तो उनका ही मान बढता ..., क्योंकि वे परिवार की मुखिया हैं ...!
------
07 मार्च 2011
इंडो-एशियन न्यूज सर्विस
http://josh18.in.com/hindi/national-video/968272/0
वाराणसी। 
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय महासचिव वरुण गांधी रविवार को वाराणसी के कामकोटेश्वर मंदिर में कोलकाता की ग्राफिक डिजाइनर यामिनी रॉय के साथ परिणय सूत्र में बंध गए। विवाह में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के परिवार का कोई सदस्य हालांकि शामिल नहीं हुआ। तबीयत खराब होने की वजह से प्रियंका भी शादी में नहीं पहुंच पाईं। यहां के हनुमानघाट इलाके में स्थित कामकोटेश्वर मंदिर में परंपरागत रीति-रिवाजों और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच कांची पीठ के शंकराचार्य जयेंद्र सरस्वती की अगुवाई में पुरोहितों व पंडितों के समूह ने विवाह सम्पन्न कराया। सरस्वती ने संवाददाताओं से कहा, "विवाह हिंदू, सनातनी विधि-विधान से हुआ।" विवाह के मद्देनजर कामकोटेश्वर मंदिर को भव्य तरीके से सजाया गया था। सजावट के लिए कोलकाता और गुजरात से फूल मंगाए गए थे। पंडाल को गुजरात के कारीगरों ने सजाया। मंत्रोच्चार के बीच शादी की रस्में सुबह करीब सात बजे शुरू हुईं। शादी सम्पन्न होने के बाद नवविवाहित जोड़ा कुछ देर के लिए मीडियाकर्मियों के सामने आया। चेहरे पर मुस्कान लिए पत्नी यामिनी और मां मेनका के साथ वरुण ने हाथ जोड़कर मीडियाकर्मियों का अभिवादन किया। 

वरुण गांधी ने सोनिया को शादी पर आमंत्रित किया! 
विवाह के दौरान वरुण गांधी कुर्ता-धोती पहने हुए थे और यामिनी गुलाबी रंग की साड़ी में नजर आईं। कहा जा रहा है यह साड़ी इंदिरा गांधी ने मेनका को दी थी। वरुण-यामिनी की शादी में दोनों परिवारों के करीब 30-35 रिश्तेदार और करीबी लोग शामिल हुए। शादी में सोनिया गांधी के परिवार से कोई शामिल नहीं हुआ। वरुण की चचेरी बहन प्रियंका गांधी और उनके पति राबर्ट वाड्रा के शादी में शामिल होने की सम्भावना थी लेकिन वे भी नहीं आए।

इस बहुचर्चित शादी के मद्देनजर इलाके में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। कामकोटेश्वर मंदिर और इसके आस-पास के इलाके में जिला पुलिस के साथ प्रांतीय सशस्त्र बल (पीएसी) के जवानों की तैनाती की गई थी। सात फेरे लेने के बाद वरुण गांधी ने कहा कि प्रियंका तबीयत खराब होने की वजह से शादी में नहीं पहुंच पाईं। वरुण ने मंदिर के बाहर संवाददाताओं से रूबरू होते हुए कहा, "प्रियंका की तबीयत खराब थी इसलिए वह शादी में शरीक नहीं हो पाईं।" वरुण से जब यह पूछा गया कि शादी के बाद कैसा महसूस हो रहा है, तो उन्होंने हंसते हुए कहा, "बहुत अच्छा लग रहा है।" मेनका गांधी से यह पूछने पर कि वह नव दम्पति को क्या शुभकामना देना चाहेंगी, तो उन्होंने कहा, "वरुण और यामिनी को पूरे देश के आशीर्वाद की जरूरत है।"

-----

http://www.dw-world.de/dw/article/0,,14845844,00.html

16.02.2011

ताई सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे वरुण

शादी के बंधन में बंधने वाले हैं वरुण

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनकी देवरानी मेनका गांधी के बीच संबंध अच्छे नहीं हैं. कहा जाता है कि दोनों में बोलचाल भी बंद है. इसलिए जब मेनका गांधी के बेटे वरुण अपनी ताई से मिलने पहुंचे तो लोगों को हैरत हुई.

वरुण गांधी की शादी होने वाली है. बुधवार को उन्होंने सोनिया गांधी से मुलाकात की और अपनी शादी का न्योता दिया. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने वरुण गांधी उनके घर 10 जनपथ गए. सूत्रों ने बताया कि यह एक निजी मुलाकात थी और बातचीत का ब्योरा जाहिर नहीं किया गया है.
इस मुलाकात में दोनों ने करीब एक घंटा साथ बिताया और खाना खाया. वरुण की शादी अगले महीने की छह तारीख को होनी है. शादी वाराणसी में कांची पीठ के शंकराचार्य के मंदिर में हनुमान घाट पर होगी. उसके बाद दिल्ली और पीलीभीत में पार्टियां होंगी.
वरुण की मां मेनका गांधी ने काफी पहले एलान कर दिया था कि शादी में सोनिया गांधी और उनके परिवार को बुलाया जाएगा. हालांकि 1997 में सोनिया और राजीव गांधी की बेटी प्रियंका की शादी हुई थी तब मेनका गांधी उसमें शामिल नहीं हुई थीं. लेकिन वरुण गांधी उस शादी में शामिल हुए थे.
वरुण की होने वाली पत्नी यामिनी रॉय पेशे से ग्राफिक डिजाइनर हैं. पश्चिमी बंगाल की रहने वालीं यामिनी रॉय 30 के वरुण से एक साल बड़ी हैं. वह कोलकाता में पली बढ़ीं लेकिन अब दिल्ली की डिफेंस कॉलोनी में रहती हैं.
----

BJP MP Varun Gandhi married his lady love of seven years Yamini Roychowdhry at a simple ceremony in Varanasi on Sunday morning. The highlight of this high-profile wedding was the absence of the other Gandhi family, signalling that the divide between the two bahus of the Nehru-Gandhi family is far from over.
Varun himself went to 10, Janpath, to invite aunt Sonia and family but neither she nor her children, Rahul or Priyanka, turned up.
Varun, who had attended Priyanka’s marriage in 1997, explained that Priyanka didi could not make it as she wasn’t well while Rahul is nursing a fractured leg. “All who were supposed to come came,” Maneka Gandhi said.
The wedding at the Sri Kashi Kamkoteshwar Temple on Hanuman Ghat was a simple affair with the strains of the shehnai, blowing of conch shells and chanting of mantras by 21 brahmins.
Shankaracharya of the Kanchi Kamakothi Peeth, Swami Jayendra Saraswati presided over the ceremony. Varun wore a white kurta and yellow dhoti while Yamini wore a seven-decade-old onion-coloured silk saree which, family sources said, was given to Maneka by Kamala Nehru.
Yamini is now the third bahu of the Nehru-Gandhi family after Sonia, who married Rajiv Gandhi in 1968, and Maneka, who married Sanjay in 1974. The daughter of former diplomat Sunil Roy and renowned film critic Aruna Vasudev, Delhi-born Yamini is a fashion designer