गुरुवार, 16 जून 2011

भाजपा का जनजागरण अभियान २३ जून से



कोटा में भारतीय जनता पार्टी देहात  बैठक सम्पन्न, मुख्यवक्ता कोटा देहात जिला प्रभारी  पूर्व मंत्री जसकोर  मीना एवं अध्यक्षता जिला  अध्यक्ष प्रह्लाद पंवार ने की | बैठक में २३ जून से २६ जून तक भाजपा के द्वारा चलाये जानें वाले कालाधन वापस लाओ , भ्रष्टाचार मिटाओ  , लोकतंत्र बचाओ अभियान हेतु मंडल स्तर की व्यवस्थाएं तय कीं ..! इस अभियान के द्वारा भाजपा केंद्र  सरकार से मांग करती है कि १- स्विस बैंकों में धन जमा करने वालों के नाम सार्वजानिक  किये जाएँ ,२- मजबूत लोकपाल विधेयक बनाया जाये ,३- न्यायपालिका में नियुक्ति और भ्रष्टाचार पर अंकुश के लिए राष्ट्रिय न्यायिक आयोग बनें |  
-------
 भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी ने घोषणा की है कि भाजपा 23 जून से देश के सौ प्रमुख केंद्रों से भ्रष्टाचार, कालेधन व तानाशाही के खिलाफ राष्ट्रव्यापी 'जनअभियान' चलाएगी।
नकवी ने मंगलवार को बताया कि जनअभियान का पहला चरण डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस (23 जून) से शुरू होकर आपातकाल की वर्षगांठ 26 जून तक चलेगा। इसके तहत देश के सौ स्थानों पर सभाएं, रैलियां, गोष्ठियां एवं जनजागरण कार्यक्रमों का आयोजन होगा। इन कार्यक्रमों में भाजपा के प्रमुख राष्ट्रीय एवं प्रांतीय नेता भाग लेंगे।
नकवी पार्टी के केंद्रीय कार्यक्रम एवं अभियान के संयोजक भी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस एवं उसके नेतृत्व वाली केंद्र सरकार अपने भ्रष्टाचार व कालेधन के अपराध से बचने के लिए 'धंधेबाज धर्मनिरपेक्षता एवं सुविधावादी साम्प्रदयिकता' को सुरक्षा कवच बना कर अपने पाप पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही हैं और सुनियोजित राजनीतिक चालबाजी के तहत देश से जुड़े इस महत्वपूर्ण सवाल पर भ्रम का माहौल पैदा करने की साजिश कर कांग्रेस खुद अपनी ही 'चालबाजी के चक्रव्यूह' में फंस चुकी है।
नकवी ने कहा, "कांग्रेस एवं उसके नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की हर साजिश, उसके भ्रष्टाचार के ताबूत में कील ठोक रही है और अब समय आ गया है जब देश की जनता भ्रष्टाचार एवं कालेधन के ताबूत में आखिरी कील ठोकेगी। हमारा यह जनअभियान आक्रामक और प्रभावी होगा।"
नकवी ने बताया कि जनअभियान का दूसरा चरण जुलाई से अगस्त के बीच होगा। इसके तहत चौक-चौराहों, चौपालों, गांव, गली, मुहल्लों तक जनअभियान को ले जाया जाएगा। अभियान के दौरान नुक्कड़ नाटक व प्र्दशनियां आयोजित की जाएंगी तथा शहरी क्षेत्रों में भ्रष्टाचार केसरी व हास्य-व्यंग कवि सम्मेलनों का आयोजन भी किया जाएगा।
--------

जयपुर,: भारतीय जनता पार्टी काले धन को वापस लाने की मांग को लेकर और दिल्ली में बाबा रामदेव और उनके समर्थकों को जबरन निकाले जाने की मांग को लेकर 23 से 26 जून तक देशव्यापी जन जागरण अभियान चलायेगी।
भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव किरण माहेश्वरी और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा अरूण चतुर्वेदी ने आज यहां संवाददाताओं को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पार्टी कालाधन को वापस लाने का प्रारंभ से ही समर्थन करती रही है । केन्द्र सरकार विदेशों में जमा काला धन क्यों नहीं लाना चाहती उसे यह जनता को बताना चाहिए।
उन्होंने भ्रष्टाचार के मुददे पर अनशन कर रहे बाबा रामदेव और उनके समर्थकों को बलपूर्वक हटाने की निंदा करते हुए कहा कि सरकार दमन से जनभावनाओं को दबा नहीं सकती।
माहेश्वरी ने कहा कि जनजागरण अभियान के दौरान देश भर में काला धन जमा करने वालों के नाम सार्वजनिक करने और केन्द्र की कांग्रेसनीत सरकार की कमजोरियों से लोगों को अवगत कराया जायेगा।

--------
 राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी 
देश में चारों ओर लूट मची है, पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सो रहे हैं
कोलकाता : भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी ने केंद्र की यूपीए सरकार को अली बाबा 40 चोर की सरकार बताया है. एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए श्री नकवी ने आरोप लगाया कि देश में चारों ओर लूट मची है, पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह व यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी सो रहे हैं. भ्रष्टाचार व काले धन के मुद्दे पर आंदोलन करनेवालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है, उन्हें बदनाम करने का प्रयास चल रहा है.
बाबा रामदेव व अन्ना हजारे के समर्थकों के साथ ब्रिटिश सरकार जैसा रवैया अख्तियार किया जा रहा है. श्री नकवी ने कहा कि यह सरकार अपराधियों की सरकार है. काले धन व भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज बुलंद करनेवालों को आरएसएस व भाजपा का समर्थक बता कर उन्हें बदनाम किया जाता है. उन्होंने कहा कि इन गंभीर मुद्दों पर संसद में बहस होनी चाहिए थी, पर सरकार ऐसा नहीं चाह रही है. सरकार इन मुद्दों को हल्के में ले रही है. इसलिए लोगों का गुस्सा नफरत में बदल गया है. श्री नकवी ने बताया कि पिछले दिनों अमेरिका ने भारत में चल रहे आंदोलन पर संशय का इजहार किया था, जो एक तरह से भारत के अंदरूनी मामलों में दखलंदाजी के बराबर है. पर केंद्र को इसकी कोई चिंता नहीं है.
काले धन व भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन करनेवालों की रामलीला मैदान में रात के वक्त पिटायी की जाती है, पर इस मुद्दे पर सरकार ने अभी तक अमेरिका के खिलाफ अपना विरोध नहीं दर्ज कराया है. यह एक बेहद गंभीर मुद्दा है. उन्होंने कहा कि कुछ अखबारों में स्वीस बैंकों में रुपये जमा करनेवालों के कुछ नाम सामने आये है, जिनमें कुछ गांधी भी हैं. सरकार को यह बताना होगा कि स्वीस बैंक में पैसा जमा करनेवाले कौन गांधी हैं. बाबा रामदेव द्वारा हथियारबंद फौज गठित करने की घोषणा से भाजपा को अलग करते हुए श्री नकवी ने कहा कि हमारी नजरों में न तो अन्ना हजारे गांधी जी हैं और न हम लोग रामदेव को जयप्रकाश नारायण मानते हैं.
भाजपा सिर्फ इन लोगों द्वारा उठाये गये मुद्दों का समर्थन कर रही है. श्री नकवी ने बताया कि काले धन व भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजपा 23 से 26 जून तक देशव्यापी आंदोलन करेगी. पर इसमें रामदेव या अन्ना हजारे का साथ नहीं लिया जायेगा. पश्चिम बंगाल में भाजपा 13 जून को राज्य भर में दस मिनट का सांकेतिक चक्का जाम करेगी एवं 30 जून को एक महा जुलूस निकाला जायेगा.