सोमवार, 12 सितंबर 2011

कोटा राजस्थान में अनंत चतुर्दशी महोत्सव......



- अरविन्द सीसौदिया,कोटा ,राजस्थान ।


..मनोहारी झांकियों और अखाडों के हैरत अंगेज करतबों के साथ निकली अनंत चतुर्दशी महोत्सव की शोभायात्रा । बारिश के बावजूद ठाठें मारता रहा जोश-उल्लास, लगभग 4 किलोमीटर लम्बे जलूस के स्वगत में उमडा शहर, पूरे जलूस मार्ग में ठंडे पानी,शर्बत से लेकर खान -पान के व्यापक इंतजाम जनता ने किये थे। नारी शक्ति ने भी दिखाई शस्त्र कला कौशल की हैरत अंगेज कला बाजियां , किशोर सागर तालाब में देर रात तक गणपति की मूर्तियों की बिदाई का विसर्जन होता रहा. 60 साल से कोटा में निकाले जा रहे अनंत चतुर्दशी के ऐतिहासिक जुलूस को देखने के लिए बारिश के बावजूद लोगों की भारी भीड़ रही। 
शोभायात्रा में 100 से ज्यादा आकर्षक झांकियां शामिल थीं। जुलूस में करीब 47 अखाड़ों ने शिरकत की। इनमें परंपरागत शस्त्रकला का प्रदर्शन करने वाले पठ्ठों ने कीलों व तलवारों पर लेटकर, चाकू को पैर में रखकर आंख में काजल आंजने, दोनों हाथों में तलवारें घुमाने जैसे कौशल दिखाकर लोगों को दांतों तले अंगुलियां दबाने को विवश कर दिया।