सोमवार, 12 मार्च 2012

जापान सुनामी की भयंकर तबाही के साल भर बाद ही उठ खडा हुआ है, मगर हम आजादी के 65 साल में भी




- अरविन्द सिसोदिया 
स्वार्थवादी...
जापान सुनामी की भयंकर तबाही के साल भर बाद ही उठ खडा हुआ है।
मगर हम आजादी के 65 साल में भी उठ कर खडे नही हो पाये...?
देश की 70 प्रतिशत जनता आज भी मनमसोस कर गुजारा कर पा रही है।
जापान पहले भी दो - दो विश्वय़ुद्धों के बाद भी फिर से उठ खडा हुआ था।
क्यों कि वहां सरकार और जनता राष्ट्रवादी हैं और
हमारे यहां सरकारें और राजनीति स्वार्थवादी........!!!

-----
सुनामी के सालभर बाद जापान में श्रद्धांजलि सभा

जपान में पिछले साल 11 मार्च को आए भूकम्प व सुनामी के सालभर बाद रविवार को मरने वालों की याद में जगह-जगह श्रद्धांजलि सभा आयोजन किया गया। इस आपदा में 14,919 लोगों की मौत हो गई, जबकि चार हजार से अधिक लापता हो गए। फुकुशिमा परमाणु संयंत्र में भी कई विस्फोट हुए और इसके तीन रिएक्टरों से रिसाव शुरू हो गया।
इन रिएक्टरों से हुए रिसाव के कारण मिट्टी, समुद्र का पानी और वातावरण भी दूषित हुआ। वर्ष 1986 में रूस के चेरनोबिल के बाद यह दूसरी बड़ी परमाणु दुर्घटना थी।
मुख्य श्रद्धांजलि सभा का आयोजन नेशनल थियेटर में किया, जहां सम्राट अकीहितो ने सभा को सम्बोधित किया। मरने वालों की याद में स्थानीय समयानुसार दोपहर 14.46 बजे एक मिनट का मौन रखा गया। पिछले साल 11 मार्च को इसी समय भूकम्प आया था, जिसकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर नौ मापी गई थी।
भूकम्प प्रभावित मियागी, फुकुशिमा और इवाते में भी श्रद्धांजलि सभा का अयोजन किया गया।