रविवार, 12 जनवरी 2014

अरविंद केजरीवाल दे रहे हैं भ्रष्टाचारियों का साथ : रामदेव


अरविंद केजरीवाल  दे रहे हैं भ्रष्टाचारियों का साथ: रामदेव
bhaskar news | Jan 12, 2014
पुणे।  योग गुरु बाबा रामदेव ने गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का गुनगान गाते हुए कहा कि उनके (मोदी) भाषण से लगता है कि वे प्रधानमंत्री बनने के लिए योग्य हैं।  जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर टिप्पणी करते हुए कहा कि उन्होंने भ्रष्टाचार के विरोध में लडऩे के नाम पर सत्ता हासिल करने के लिए, भ्रष्टाचारियों से ही हाथ मिलाया है।

योग गुरु ने कहा कि आगामी चुनावों में देश की राजनीति में बड़ा परिवर्तन आएगा। केजरीवाल की आम आदमी पार्टी के कारण अधिक नुकसान कांग्रेस का ही होगा। फिलहाल मोदी, केजरीवाल, राहुल गांधी में लड़ाई है, किंतु इसमें कांग्रेस ही पराजीत होगी। आने वाली सरकार स्थिर होनी चाहिए, ऐसा विश्वास लोगों को होना चाहिए। उन्होंने कहा, 'मैं देश के अनेक गांवों में घूमा हूं। लोगों के सामने मोदी के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल वीआईपी संस्कृति खत्म करने की बात कहते हैं और खुद इनोवा कार से घूमते हैं। भ्रष्टाचार के विरोध में लडऩे के नाम पर उन्होंने सत्ता हासिल करने के लिए भ्रष्टाचारियों से ही हाथ मिलाया है और कह रहे हैं कि देशभक्त तथा ईमानदार सरकार बनाएंगे। 

'टेलीविजन वाला नेता' देश का भला करेगा ..? - नरेंद्र मोदी



'टेलीविजन वाला नेता' देश का भला करेगा या फिर
'नई सोच रखने वाला नेता ?' देश तय करे: मोदी
 ABP News ब्यूरो  से / रविवार, १२ जनवरी २०१४
( संसोधित )
पणजी:  गोवा में आयोजित भारतीय जनता पार्टी की विजय संकल्प रैली में बीजेपी के पीएम कैंडीडेट नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. मोदी ने केजरीवाल का नाम लिए बगैर उन्हें टीवी वाला नेता कहा.

मीडिया वालों को दिल्ली के बाहर कुछ दिखता नहीं ....,
मोदी ने अपने भाषण में कहा कि अब देश को तय करना है कि टेलिविजन पर दिखने से देश का भला होगा या फिर देश के लिए नई सोच रखने वाला नेता देश का भला करेगा. मोदी ने केजरीवाल का नाम लिए बगैर गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर को उनके मुकाबले में रखते हुए कहा, 'कल्पना कीजिए गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अगर दिल्ली में होते तो क्या होता... सारे देश को पता चलता कि इतने पढ़े-लिखे इंसान में कितनी सादगी है... लेकिन क्या करें वह गोवा में हैं दिल्ली में नहीं. मीडिया वालों को दिल्ली के बाहर कुछ दिखता नहीं है.

मोदी ने कहा कि टीवी की स्क्रीन पर और अखबार के पन्ने पर मैं हमेशा-हमेशा हारता रहा, कभी जीत नहीं पाया. न जगह बना पाया, न उनको जीत पाया. लेकिन जनता के दिलों से कभी हारा नहीं मैं. इसलिए अब देश को तय करना है कि टेलिविजन पर दिखने से देश का भला होगा या फिर धरती पर विजन देखने से भला होगा. देश को टेलिविजन की स्क्रीन पर चेहरा चाहिए या धरती पर विजन चाहिए. देश को आगे बढ़ाना है तो नई सोच चाहिए... नए तरीके से फैसले चाहिए.. अनुभव की कसौटी पर कसे हुए लोग चाहिए... तभी जाकर भारत का भाग्य बदल सकता है.'

शिंदे वोट बैंक की राजनीति न करें
मोदी ने पिछले दिनों मुख्यमंत्रियों को लिखी चिट्ठी को लेकर गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे पर सीधा हमला बोला. उन्होंने कहा कि शिंदे मुख्यमंत्रियों को कानून-व्यवस्था का पाठ न पढ़ाएं. यह संघीय ढांचे के खिलाफ हैं. उन्होंने कहा,'सभी गुनहगारों के लिए एक ही तरह का कानून होना चाहिए और उनसे एक ही तरह का व्यवहार होना चाहिए. शिंदे वोट बैंक की राजनीति के तहत मुख्यमंत्रियों को चिट्ठी लिखकर कह रहे हैं कि गुनहगारों को अरेस्ट कर रहे हो तो यह देखो कि मुसलमान को अरेस्ट न किया जाए. क्या गुनहगारों का कोई धर्म होता है? शिंदे को बेगुनाहों को न्याय की बात करनी चाहिए. संप्रदाय के आधार पर किसी को जेल में ठूंसना नहीं चाहिए.'

दिल्ली का जयंती टैक्स
दिल्ली में लगता है 'जयंती टैक्स':मोदी ने अपने भाषण में पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा, 'अब बस कुछ महीनों का सवाल है.. हम पर्यावरण की रक्षा भी करेंगे, हम खनन में पारदर्शिता भी लाएंगे और खनन के द्वारा देश के अर्थतंत्र को आगे बढ़ाएंगे. पर्यावरण मंत्रालय को लेकर तूफान मचा हुआ है. सारी फाइलें रोक दी जाती हैं. बिना पैसे के काम नहीं होता. लोग कहते हैं कि दिल्ली में 'जयंती टैक्स' चलता है. जयंती टैक्स के बिना पर्यावरण मंत्रालय में फाइल पास नहीं होती.'

गरीबों को आगे बढ़ा रही है बीजेपी
मोदी ने कहा, बीजेपी ऐसी पार्टी है जो गरीबों को आगे बढ़ने का मौका दे रही है. हमारे कई नेता समान्य परिवार से है. उन्होंने कहा कि बीजेपी जैसा संगठन नहीं होता, बीजेपी जैसा नेतृत्व नहीं होता, तो रेल के डिब्बे में चाय बेचने वाला बच्चा आपके सामने खड़ा नहीं होता. उन्होंने कहा कि कांग्रेस में वीआईपी कल्चर की जड़ें गहरी हैं. मोदी ने शिवराज सिंह चौहान, रमन सिंह और हिमाचल के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल का नाम लेते हुए कहा कि सामान्य परिवारों से आए ये लोग, देश की सेवा में जुटे हैं.

वाजपेयी से सीखें ईमानदारी
मोदी ने कहा कि अगर किसी को ईमानदारी सीखनी हो तो बीजेपी के पहले प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से सीखे. उन्होंने कहा कि तीन-तीन बार प्रधानमंत्री बनने के बावजूद वाजपेयी जी के पास अपना एक घर तक नहीं है. मोदी ने गोवा के लोगों से अपील की कि वो राज्य में आने वाले टूरिस्टों को गोवा की बीजेपी सरकार की शानदार उपलब्धियों से परिचित कराएं.

मोदी ने लोगों को संकल्प दिलाया कि आने वाले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को पूरी तरह से उखाड़कर कांग्रेस मुक्त भारत बनाने का सपना पूरा करेंगे. मोदी ने कहा कि लोगों ने कांग्रेस मुक्त भारत का संकल्प ले लिया है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत का अर्थ परिवारवाद के खात्मे से है. बीजेपी का एक ही धर्म है सबका साथ, सबका विश्वास. उन्होंने इस बात के लिए गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्णिकर की सराहना भी की कि मुख्यमंत्री ने रैली से जुटाई गई धनराशि को हाल ही में ढही इमारत के पीड़ित परिवारों को देने का फैसला लिया है.