गुरुवार, 26 मार्च 2015

भाजपा : 31 मार्च के बाद विश्व में सबसे बड़ी पार्टी




संगठनात्मक गतिविधियां: सदस्यता महाभियान
31 मार्च के बाद विश्व में सबसे बड़ी पार्टी
के रूप में उभरेगी भाजपा: दिनेश शर्मा
भाजपा राष्टन्न्ीय उपाध्यक्ष श्री दिनेश शर्मा उत्तर प्रदेश से
सम्बह् हैं और वे उत्तर प्रदेश की राजध्ाानी के महापौर है। वे
भाजपा सदस्यता अभियान के राष्टन्न्ीय संयोजक भी है। ‘कमल
संदेश’ के सम्पादकीय मंडल सदस्य राम प्रसाद त्रिपाठी से हुई
बातचीत में उन्होंने सदस्यता अभियान को अत्यध्ािक सफल
बताते हुए संगठन की उपलब्ध्ाियां सामने रखीं। उन्होंने निकट
भविष्य में संगठन की महत्वाकांक्षी योजनाओं का भी उल्लेख
किया और इसकी सफलताओं पर विश्वास व्यक्त करते हुए
कहा कि 31 मार्च के बाद भाजपा विश्व की सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी उभर कर आएगी। प्रस्तुत है मुख्य
अंश:

लोकसभा की ऐतिहासिक विजय और राज्य विध्ाानसभा के
चुनावों में उसकी ऐतिहासिक जीत के बाद भाजपा ने
राष्टन्न्व्यापी सदस्यता अभियान शुरू किया है, जिसमें
कम से कम 10 करोड़ नए सदस्य बनाने की योजना
है। किन्तु पार्टी इस लक्ष्य को कैसे प्राप्त कर पाएगी
और इसका तंत्र क्या है?
पार्टी संगठन को मजबूत करने के लिए प्रध्ाानमंत्री श्री नरेन्द्र
मोदी और भाजपा राष्टन्न्ीय अध्यक्ष श्री अमित शाह ने
1 नवम्बर 2014 को राष्टन्न्ीय अभियान छेड़कर पार्टी
में कम से कम तीन से चार गुणा तक प्राइमरी सदस्य
बढ़ाने का संकल्प किया है। उन्होंने इसी दिन अपना
मोबाईल फोन इस्तेमाल कर पार्टी की प्राइमरी सदस्यता
ग्रहण की। विशेष बात यह है कि भाजपा ही देश में
ऐसी राजनैतिक पार्टी है जो आरम्भ से ही हर छह वर्ष
के बाद इस प्रकार का सदस्यता अभियान चलाती है।
वर्तमान सदस्यता अभियान 31 मार्च 2015 तक
चलेगा। आम आदमी की जबरदस्त भागीदारी से हमारा
यह कार्यÿम सफल होगा और हम अपने लक्ष्य को
पार कर जाएंगे।
पहले की तरह ही, भाजपा बड़े पैमाने पर सदस्यता अभियान
चला रही है, परन्तु जहां तक अभियान तंत्र का संबह्
है, पारम्परिक तौर-तरीकों के अलावा हम पहली बार नई
तकनीक का प्रयोग कर रहे है और सदस्यों को मोबाईल
फोन पर सदस्य बना रहे हैं।
कोई व्यक्ति किस प्रकार से भाजपा का प्राइमरी सदस्य बन
सकता है और सÿिय सदस्य बनने के लिए क्या
प्रÿिया है?
कोई भी व्यक्ति भाजपा का सदस्य बनने के लिए
18002662020 पर फोन करेगा। किन्तु 1 अप्रैल से हम
‘सदस्यता महाभियान’ चला रहे है और हमारे कार्यकर्ता
प्रत्येक प्राइमरी सदस्य के घर जाएंगे और उन्हें रजिस्टर
करेंगे। योजना के अनुसार, अप्रैल और मई माह के दौरान
हम प्रत्येक प्राइमरी सदस्य को ‘पहचान पत्र’ देंगे। जेा
लोग आपराध्ािक रिकार्ड के होंगे या जो भाजपा के सदस्य
बनने के लिए उचित नहीं होंगे, उन्हें अयोग्य करार दिया
जाएगा।
सÿिय सदस्य बनने के लिए उसे कम से कम 100 प्राइमरी
सदस्य बनाना आवश्यक है। पार्टी ने इस प्रयोजन के
लिए उन्हें ‘सदस्यता फार्म’ जारी किया है और
कार्यकर्ताओं को अपने 7 दिन के प्रवास में सदस्यता
संख्या, व्यक्ति का नाम, उस प्राइमरी सदस्य का
टेलीफोन नं. और पार्टी के मण्डल/जिला अध्यक्ष को
इसे जमा कराना होगा। तभी वह सÿिय सदस्य बन
सकेगा/सकेगी।
11
कमल संदेश 􀂁 मार्च 1-15, 2015 􀂁 11
सदस्यों को एनरोल करने के लिए मोबाइल टैक्नोलाॅजी की
शुरूआत करने के पीछे क्या तर्क है?
सर्वे रिपोर्टों के अनुसार भारत में 93 करोड़ से अध्ािक लोगों
के पास मोबाइल हैं। इस प्रकार के आंकड़ों ने हमें अपने
सदस्यों को एनरोल करने के लिए इस मोबाइल टैक्नोलाॅजी
का इस्तेमाल करने की प्रेरणा दी। पिछली बार डेढ़ वर्षों
में हमने रसीद पुस्तकों के माध्यम से 3.7 करोड़ सदस्य
बनाए थे। अतः, इस बार संगठन ने निर्णय लिया है कि
हम मोबाइल के माध्यम से सदस्य बनाने की नई तकनीक
का प्रयोग करेंगे। वास्तव में यह तकनीक बड़ी उत्साहजनक
रही। 22 फरवरी 2015 तक भाजपा ने 5 करोड़ 70
लाख सदस्य रजिस्टर किए और लगभग 10 कराड़ फोन
काॅल प्राप्त हुईं। हमने इन काॅलों को सदस्य सूची में दर्ज
किया है। अब भी 66 लाख लोगों ने रसीद पुस्तकों के
माध्यम से सदस्यता ग्रहण की है। अब मोबाइल सदस्यता
अभियान जारी है और हमें उम्मीद है कि इस टैक्नोलाॅजी
का इस्तेमाल कर हम कम से कम 3-4 गुणा सदस्यों
की संख्या बढ़ा सकेंगे।
उन लोगों के लिए आपके पास क्या योजना है, जिनके पास
मोबाइल फोन नहीं है? वे किस प्रकार से भाजपा के
सदस्य बन सकते है?
हमने ‘एक मोबाइल एक सदस्य’ की व्यवस्था रखी है। यदि
हम एक मोबाइल संख्या से अनेकानेक सदस्य बनाने की
अनुमति देते हैं तेा यह आंकड़ा कई गुणा बढ़ जाएगा।
किन्तु, बिना मोबाइल वाले व्यक्तियों को फोन सं.
9242492424 पर एसएमएस भेजना होगा और वह
भाजपा का/की सदस्य बन सकेगा/सकेगी। दूसरे, रसीद
पुस्तक व्यवस्था द्वारा पारम्परिक सदस्यता ग्रहण करना
जारी है। परन्तु हम उनकी सदस्यता पर बाद में विचार
करेंगे।
अब तक सदस्यता अभियान का रिस्पांस क्या है?
कार्यÿम शुरू करने के बाद पहले 30 दिनों में हमने 1 करोड़
सदस्य बनाए, फिर अगले 22 दिनों में हमने 1 करोड़
सदस्य बनाए, इसके बाद 13 दिनों, 15 दिनों, 16 दनों
और 18 दिनों की अवध्ाि में हमने प्रत्येक अवध्ाि में
ÿमशः 1 करोड़ सदस्य बनाए। इस प्रकार, सदस्यों की
संख्या निरंतर बढ़ती रही है। राजस्थान, पश्चिम बंगाल,
बिहार, उत्तर प्रदेश, असम, ओडिशा और दक्षिणी राज्यों
में भाजपा के सदस्यों की संख्या ने सभी रिकार्ड तोड़
दिए है और इनमें भारी वृह् िहुई है। इससे पहले, पश्चिम
बंगाल में 1.5 लाख सदस्य थे। 1 नवम्बर के बाद और
अब तक हमने 20 लाख नए सदस्य बनाए हैं। इसी
प्रकार, कर्नाटक में हमारे 45 लाख, दिल्ली में 2.6 लाख,
राजस्थान में 40 लाख, गुजरात में 60 लाख नए सदस्य
बने हैं और अन्य दूसरे राज्यों में सदस्यों की संख्या
उत्साहवधर््ाक है। इससे हमारे इस कार्यÿम की सफलता
और लोकप्रियता का पता चलता है।
जहां तक संख्या का संबंध्ा है तो क्या भाजपा ने कोई लक्ष्य
निध्ाारित किया है?
हमने कोई लक्ष्य नहीं रखा है, परन्तु, हमारा लक्ष्य पार्टी की
प्राइमरी सदस्यता अभियान को कम से कम 3-4 गुणा
बढ़ाना है और सÿिय सदस्यता में वर्तमान आंकड़ों से
बढ़कर कम से कम 50 प्रतिशत वृह् िकरना है। अब
इस समय चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की वास्तविक
सदस्यता लगभग 6.5 करोड़ है। किन्तु उन्होंने जबरदस्ती
आर्मी, पुलिस सरकारी कर्मचारियों को सदस्य बनाकर
इसे 8 करोड़ तक पहुंचा दिया है। एक बात निश्चित
है कि 31 मार्च के बाद यह आंकड़ा कहीं अध्ािक बढ़
जाएगा और भाजपा विश्व की सबसे बड़ी राजनैतिक
पार्टी होगी।
क्या पार्टी के पास प्रशिक्षण कार्यÿम की योजना है, जिससे
वह भाजपा की विचारध्ाारा को नए सदस्यों में समावेश
कर सके?
‘सदस्यता महाभियान’ के बाद पार्टी जून और जुलाई में नए
सदस्यों और पार्टी के सÿिय सदस्यों के लिए बड़े पैमाने
पर प्रशिक्षण शिविर लगाएगी और हम भाजपा की
विचारध्ाारा उन तक पहुंचाएंगे।
31 मार्च को इस अभियान की समाप्ति के बाद क्या पार्टी की
सदस्यता अभियान के विस्तार की कोई योजना है?
‘यह-सदस्यता अभियान’ 31 मार्च को समाप्त होगा। उसके
बाद, संगठन ने पूरे वर्ष 2015 को ‘सदस्यता पर्व वर्ष’
के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। इसका उद्देश्य
‘सदस्यता अभियान’ को देश के घर-घर तक ले जाना
है और पार्टी का अंतिम उद्देश्य है कि देश में ‘घर-घर
भाजपा’ या हर घर में भाजपा का सदस्य हो।
किस प्रकार से भाजपा इतने बड़े पैमाने पर सदस्यता
अभियान का आयोजन करती है और भाजपा का
कार्यकर्ता इसमें अपना कितना सहयोग दे सकता है?
विश्व की किसी भी राजनैतिक पार्टी का सबसे बड़ा सदस्यता अभियान होता
है। अतः भाजपा राष्टन्न्ीय अध्यक्ष श्री अमित शाह इस कार्यÿम पर निगाह
रख रहे हैं और इस प्रयोजन के लिए हर राज्य में जा रहे हैं। मैं इस कार्यÿम
का संयोजक हूं और मैं 18 राज्यों में जा चुका हूं। भाजपा सदस्यता अभियान
के राष्टन्न्ीय सह-संयोजक, अर्थात् डाॅ. विनय सहस्रबुह्े, श्री अरुण सिंह, श्री
सीटी रवि और श्रीमती सुध्ाा यादव भी प्रभागीय और जिला स्तर के शहरों
और विभिन्न राज्यों के कस्बों में जाकर बैठकें आयोजित कर रही है। इसी
प्रकार, प्रत्येक राज्य में हमारे संयोजक और सह-संयोजक हैं, जो मण्डल
स्तर तक इनका आयोजन करते हैं। किन्तु हम कार्यकर्ताओं को अध्ािकाध्ािक
सदस्य बनाने के लिए प्रेरित करते हैं। हमने निर्णय लिया है कि जो कार्यकर्ता
1000 से अध्ािक सदस्य बनाएंगे, उनका राज्य स्तर पर अभिवादन किया
जाएगा। और जो 5000 से अध्ािक सदस्य बनाएंगे, जैसे राजस्थान के श्री
सागर जोशी ;अकेले 15,000 सदस्य बनाएद्ध और श्री सी.आर. पाटिल,
एम.जी, सूरत, गुजरात जिन्होंने ;6000 सदस्य बनाएद्ध, उन्हें संगठन केन्द्रीय
स्तर पर अभिवादन करेगा। वास्तव में, यह पार्टी कार्यकर्ताओं की सÿिय
भागीदारी से इतनी बड़ी सफलता मिल सकती है और इससे निश्चित ही
भाजपा विश्व की सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी बन सकेगी। 􀂄