बुधवार, 15 अप्रैल 2015

भाजपा कोटा शहर : जनसंघ कालिक पांच कार्यकर्ताओ का सम्मान किया

            
अरविन्द सिसोदिया
9414180151/ 9509559131



                       
                                               जनसंघ कालिक पांच कार्यकर्ताओ का सम्मान किया
                                  अमितशाह अमरूदों के बाग जयपुर मे सम्बोधित करेगे 25 अप्रैल को
                                     भाजपा कोटा शहर की जिला बैठक एवं सम्मान समारोह सम्पन्न
                                     पार्टी कार्य की कर्मठता ही कार्यकर्ता की पहचान - पंचारिया
                                                       पार्टी के विस्तार में जुटजायें - बिरला

जनसंघ कालिक कार्यकर्ता वैद्य देवीशंकर शर्मा, एडवोकेट बजरंगलाल वर्मा, एडवोकेट प्रेमचन्द जैन दमदमा वाले, व्यवासाही चांदमल विजय दानमलजी का आहता वाले और नारायणलाल खण्डेलवाल रामपुरा वालों को सम्मानित किया गया । सम्मान में माल्यापर्ण कर साफा बंधवाया गया, शाल उढ़ाया गया, श्रीफल भेंट किया गया और एक एक अभिनंदन पत्र दे कर सम्मान किया गया ।

कोटा 14 अप्रैल। हमारी पार्टी आज की नहीं हम 21 अक्टूबर 1951 से राजनैतिक यात्रारत हैं। हमारा बहुत गहरा अनुभव है और लम्बा सफर है। कार्यकर्ताओं के घोर परिश्रम से हम 2 से प्रारम्भ कर 282 तक पहुंच गये है। भाजपा में कार्यकर्ता की पहचान ही उसका कर्मठ होना है। उन्होने कहा आज हम अपने जनसंघ कालिक कार्यकर्ताओं का सम्मान करके स्वंय सम्मानित हो रहे हैं। युवाकार्यकर्ताओं को इनके कार्यकौशल एवं संर्घष से प्रेरणा लेना चाहियें। 

उन्होने बताया कि डॉ0 श्यामाप्रसाद मुखर्जी, पं0 दीनदयाल उपाध्याय, अटलबिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी से प्रारम्भ यह रथ निरंतर आगे बड़ता हुआ, विश्व की नम्बर एक पार्टी के रूप में भारतमाता को परम वैभव के सिंेहासन पर बिठानें के लक्ष्य की ओर बढ़ रहा है। जो अमरीका बीजा नहीं देता था वह आज पलक पावडे़ बिछाये रहता है। यह सब भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ताओं और उनके द्वारा अर्जित जन विश्वास से हुआ है। कार्यकर्ता स्वाभिन के साथ जन जन के मध्य जाये पूरे विश्व में भारत और भाजपा का ढंका बज रहा है।

कार्यक्रम के मध्य में जनसंघ कालिक कार्यकर्ता वैद्य देवीशंकर शर्मा, एडवोकेट बजरंगलाल वर्मा, एडवोकेट प्रेमचन्द जैन दमदमा वाले, व्यवासाही चांदमल विजय दानमलजी का आहता वाले और नारायणलाल खण्डेलवाल रामपुरा वालों को सम्मानित किया गया । सम्मान में माल्यापर्ण कर साफा बंधवाया गया, शाल उढ़ाया गया, श्रीफल भेंट किया गया और एक एक अभिनंदन पत्र दिया गया है। संचालन कर रहे भाजपा के वरिष्ठनेता अरविन्द सिसोदिया ने बताया कि ये सभी जनसंघ के समय से सक्रीय रहते हुये अभी तक पार्टी के बूथों को संभालने वाले कार्यकर्ता हैं। अनकेां बार जेल यात्रायें की निरंतर पार्टी के आन्दोलनों में भाग लेने वाले हैं।


कोटा के सांसद ओम बिरला ने कहा हमें अपनी पार्टी को देश के कोने - कोने में और सभी वर्गो में पहुंचाना है। सदस्यता अभियान के द्वारा पार्टी का विस्तार अभियान चल रहा है। इस महती कार्य में सभी को जुटना चाहिये, जो अभी तक सदस्य नहीं बनें हैं उन्हे तुरंत बन जाना चाहियें। कोटा में जनसंघ का कार्य इतना मजबूत था कि इसे गढ़ कहा जाता था। हम इसे गढ़ बनाने वाले कार्यकर्ताओं को सम्मानित करके स्वंय गौरवान्वित हैं।

भाजपा जिला अध्यक्ष हेमन्त विजयवर्गीय ने कहा भाजपा के स्थापना दिवस पर किन्ही कारणों से सम्मान समारोह एवं पार्टी को विश्व में नम्बर 1 बनने का उत्सव स्थगित हो गया था। उसे इस कार्यक्रम के द्वारा सम्पन्न गया है। साथ ही 30 अप्रेल को समाप्त हो रहे सदस्यता अभियान एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की जयपुर में 25 अप्रेल को अमरूदों के बाग में होने वाले कार्यकर्ता सम्मेलन के लिये भी यह बैठक है।

विधायक संदीप शर्मा ने कहा पार्टी का कार्य जितना मजबूत होता है, पार्टी की नींव उतनी मजबूत होती है। कोटा में हमारी पीढी को मजबूत नींव देने वाले वरिष्ठ कार्यकर्ताओं का सम्मान कर पार्टी अभिभूत हैं। महापौर महेश विजय ने कहा वरिष्ठ जनसंघ कालिक कार्यकर्ताओं के सम्मान से आगे की पीढ़ी को प्रेरणा मिलेगी।

बैठक में उपमहापौर सुनीता व्यास, पूर्व महापौर सुमन श्रृंगी , पूर्व जिला अध्यक्ष मनमोहन जोशी, श्याम शर्मा मंचस्थ थे। सदस्यता अभियान के जिला संयोजक अमित शर्मा ने वृत प्रस्तुत किया । कार्यक्रम का संचालन अरविन्द सिसोदिया ने किया तथा धन्यवाद ज्ञापन रामबाबू सोनी ने किया।


जटाशंकर शर्मा, रविन्द्र सिंह निर्भय, अशोक चौधरी, किसन पाठक, अमित दाधीच, पुरूषोतम अजमेरा, नेता खण्डेलवाल, अलका मेवाडा, कृष्णा खण्डेलवाल, रविन्द्रसिंह हाडा, हितेन्द्रसिंह हाडा, सुयश गौतम, सचिन मिश्रा, मनीश चौधरी, रिरिराज गौतम, चन्द्रशेखर नरवाल, केवलकृष्ण बांगड, श्याम गौड,गिरिराज गौतम,अर्थपाल सिंह,सुनील शर्मा,गिरिश भार्गव, गोपाल सोनी




सम्मानित किये गए पांचो वरिष्ठ कार्यकर्ताओं का जीवन परिचय ............

01 - वैद्य देवीशंकर जी शर्मा
 
जन्म तिथि - 5/3/1919  आप आयुर्वेद रत्न हैं ।
आपका जुड़ाव 1945 में संघ से हुआ, संघ की प्रथम शाखा में आप स्वंय सेवक रहे हैं। जनसंघ में अनेकों स्तरों पर कार्य करते रहे। भाजपा से भी लगातार जुड़ाव रहा । कोटा नगर में डॉ0 दयाकृष्ण विजय एवं ईश्वरलाल साहू के साथ आप संयुक्त मंत्री पद पर रहे। जनसंघ के कोटा में हुऐ राष्ट्रीय अधिवेशन में भोजन प्रमुख का भार आपने ही संभाला था। आपने आपातकाल में लोकतंत्र रक्षा के लिये महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हे। आपका जीवन कार्यकर्ता के रूप में अनुकरणीय है।

02 - बजरंगलाल जी वर्मा एडवोकेट





 जन्म तिथि - 8/10/1939  आप अधिवक्ता  हैं ।
आपका जुड़ाव 1952 में संघ से हुआ, संघ शिक्षावर्ग में द्वितीय वर्ष किया हे। 1954 से जनसंघ में अनेकों स्तरों पर कार्य करते रहे। कश्मीर बचाओ आंदोलन में आप दिल्ली में गिरिफतार किये गये, गौ हत्या विरोधी आंदोलन में भी सक्रीय भेमिका निभाई। आपने केशोरायपाटन में जनसंघ के टिकिट पर पार्षद का चुनाव लडा जीते और नेताप्रतिपक्ष भी रहे। जनसंघ के प्रांतीय प्रतिनिधि भी आप रहे। आपातकाल में आप ने भूमिगत रहते हुये लोकतंत्र रक्षा के जिले प्रभावी कार्य किया। भाजपा में भी लगातार जुड़ाव रहा । वरिष्ठ लोक अभियोजक एवं अंशकालीन व्याख्याता भी रहे हें। आपका जीवन कार्यकर्ता के रूप में अनुकरणीय है।

03 - प्रेमचंदजी जैन ( अग्रवाल) एडवोकेट, दमदमावाले




जन्म तिथि - 12/05/1936  आप अधिवक्ता  हैं ।
आपका जुड़ाव 1950 में संघ से हुआ। 1952 से जनसंघ की स्थापना के साथ ही आप जनसंघ से जुड़ गये। अनेकों स्तरों पर कार्य करते रहे, जेल यात्रा भी की। आपने कोटा नगर परिषद में जनसंघ के टिकिट पर पार्षद का चुनाव लड़ा जीते और प्रखर पार्षद की भेमिका निभाई।  जनसंघ के प्रांतीय अधिवेशनों में आप शामिल होते रहे।  आपातकाल में आप ने भूमिगत रहते हुये लोकतंत्र रक्षा के जिले प्रभावी कार्य किया। भाजपा की स्थापना के पश्चात मुम्बई में हुये प्रथम अधिवेशन में भी आपने भाग लिया । अभी भी आप मतदान के दिन बूथ पर पूरे दिन बैठ कर पार्टी के कार्य को अंजाम देते हैं। आपका जीवन कार्यकर्ता के रूप में अनुकरणीय है।


04 - चांदमलजी विजय  





जन्म तिथि - 20/02/1936 आप व्यवसायी  हैं ।
आपका जुड़ाव 1952 में संघ से हुआ। 1955 में आप जनसंघ से जुड़ गये। अनेकों स्तरों पर कार्य करते रहे। आपने कोटा नगर परिषद में जनसंघ के टिकिट पर पार्षद का चुनाव लड़ा जीते और दाऊदयालजी जोशी के साथ प्रभावी भूमिका निभाई।  जनसंघ के प्रांतीय अधिवेशनों में आप शामिल होते रहे।  आपातकाल में लोकतंत्र रक्षा के लिये जेल गये। कम से कम पांचवार आप पार्टी के जनसंघर्षों के कारण जेल में बंदी रहे।  भाजपा की स्थापना के पश्चात मुम्बई में हुये प्रथम अधिवेशन में भी आपने भाग लिया । अभी भी आप मतदान के दिन बूथ पर पूरे दिन बैठ कर पार्टी के कार्य को अंजाम देते हैं।
हाल ही में आपने अपनी विधवा पुत्र वधु का विवाह पिता बन करवाया जो कि समाज को एक नई दिशा देता है। आपका जीवन कार्यकर्ता के रूप में अनुकरणीय है।

05 नारायणलाल जी खण्डेलवाल



जन्म तिथि - 13/12/1944 आप व्यवसायी  हैं ।
आप 1955 में जनसंघ से जुड़ गये। अनेकों स्तरों पर कार्य करते रहे। प्रभावी संगठन भूमिका निभाई, जिला मंत्री भी रहे।  जनसंघ के प्रांतीय अधिवेशनों में आप शामिल होते रहे।  आपातकाल में लोकतंत्र रक्षा के लिये दो बार आप जेल गये। आप पार्टी के सभी जनसंघर्षों में सम्मिलित हुये हें और जेल में बंदी रहे है।  भाजपा की स्थापना के पश्चात मुम्बई में हुये प्रथम अधिवेशन में भी आपने भाग लिया । आज भी कोई व्यक्ति नारायणजी के सामने पार्टी की आलोचना नहीं कर सकता हैं। आपका जीवन कार्यकर्ता के रूप में अनुकरणीय है।





आतंकवाद को संवेदनशीलता से ले विश्व : नरेन्द्र मोदी



आतंकवाद को संवेदनशीलता से ले विश्व : नरेन्द्र मोदी
बर्लिन, एजेंसी 14-04-15

अंतरराष्ट्रीय समुदाय से आतंकवाद को परमाणु प्रसार के समान ही संवेदनशीलता के साथ लिए जाने का आह्वान करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को परोक्ष रूप से पाकिस्तान की ओर इशारा किया और कहा कि विश्व को आतंकवादियों को शरण देने वाले देशों पर सामूहिक रूप से दबाव बनाना चाहिए।

प्रधानमंत्री ने लंबे समय से संयुक्त राष्ट्र में लंबित अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद पर समग्र समझौते (सीसीआईटी)  को इस वर्ष विश्व संगठन की 70वीं वर्षगांठ के मौके पर अंतिम रूप दिए जाने की भी पुरजोर वकालत की। सीसीआईटी का मकसद अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद से मुकाबले के लिए सहयोग को मजबूती प्रदान करना है।

जर्मन चांसलर एंजला मर्केल के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी ने आतंकवाद को मानवता के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया और कहा कि मानवता में विश्वास रखने वाले सभी पक्षों को एक आवाज में बोलना चाहिए और इससे निपटने के लिए सामूहिक प्रयासों को तेज करना चाहिए। दोनों नेताओं ने इससे पूर्व आतंकवाद के खतरे पर चर्चा की।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आतंकवाद पूरी दुनिया के लिए एक चुनौती है, इस मुद्दे से परमाणु प्रसार की तरह संवेदनशीलता से निपटा जाना चाहिए। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि हमें इस दिशा में काम करने की जरूरत है कि हम कैसे उन स्रोतों को रोक सकते हैं जहां से हथियारों की आपूर्ति होती है। कैसे हम उन देशों पर दबाव बना सकते हैं जहां की सरकारें आतंकवादियों को शरण देती हैं, हमें ऐसे देशों और सरकारों को अलग-थलग करने की जरूरत है।

मोदी की यह टिप्प्णी पाकिस्तान की एक अदालत द्वारा लश्कर-ए-तय्यबा के आपरेशन कमांडर और 2008 के मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य साजिशकर्ता जकीउर रहमान लखवी को रिहा किए जाने के चार दिन बाद आयी है। लखवी की रिहाई पर कड़ी प्रतिक्रिया हुई है और अमेरिका, फ्रांस तथा इस्राइल समेत कई देशों ने इस पर चिंता का इजहार किया है।

लखवी की रिहाई पर कड़ा विरोध जताते हुए भारत ने कहा था कि इससे आतंकवाद से लड़ने में पाकिस्तान की प्रतिबद्धता का मोल घट गया है। प्रेस से वार्ता में मोदी ने अपनी शुरूआती टिप्पणियों में कहा कि आतंकवाद का फैलाव बढ़ रहा है और इसका चरित्र बदल रहा है। दुनिया के हर क्षेत्र से यह खतरा हमारे करीब आ रहा है। हमें इस वैश्विक चुनौती से निपटने के लिए समग्र वैश्विक रणनीति की जरूरत है जिसमें भारत और जर्मनी मिलकर काम कर सकें। जर्मन चांसलर मर्केल ने भी आतंकवाद को वैश्विक चुनौती बताते हुए कहा कि दोनों देशों के बीच सामूहिक रूप से आतंकवाद से लड़ने की सहमति बनी है।

मोदी ने कहा कि इसी प्रकार आने वाले दिनों में मैरीटाइम, साइबर और अंतरिक्ष सुरक्षा हर किसी के लिए चिंता का विषय होंगे और दोनों देशों को इन क्षेत्रों में भी सहयोग को बढ़ाना चाहिए। उन्होंने पश्चिम एशिया में अस्थिरता और हिंसा के बारे में भी बात की और कहा कि यह देश में हमारे नागरिकों की सुरक्षा को प्रभावित करता है। मोदी ने अफगानिस्तान के शांतिपूर्ण और लोकतांत्रिक विकास के महत्व पर भी जोर दिया।