मंगलवार, 21 अप्रैल 2015

इटैलियन मूल की कांग्रेसी बनाम राष्ट्र गौरव





जिस पार्टी की नेता ही विदेशी इटैलियन मूल की हो उसे विश्वख्याति पा रही भारत की कोई गौरव गाथा क्यों अच्छी लगेगी.?
इनदिनों युद्धग्रस्त यमन में पानी की तरह बरस रहे बमों की वर्षा के मध्य अपनी वायुसेना जलसेना तथा एयर इंडिया द्वारा लगभग 4800 भारतीयों के अतिरिक्त अमेरिका जापान जर्मनी स्पेन रूस ब्राज़ील और स्वीडन सहित दुनिया के 48 देशों के लगभग 2000 नागरिकों की प्राणरक्षा कर के भारत समस्त विश्व से सराहना और सम्मान प्राप्त कर रहा है.
भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज जब भारतीय संसद के माध्यम से देश के नागरिकों को भारत की इस गौरव गाथा से विस्तार से परिचित कराना प्रारम्भ किया तो कांग्रेसी सांसदों ने इसके विरोध में संसंद के भीतर गज़ब का हल्ला हुड़दंग करके इसका जबरदस्त विरोध किया और सुषमा स्वराज को ऐसा करने से रोकने का भरपूर प्रयास किया. अपने इस दुष्प्रयास में वे सफल भी रहे क्योंकि कांग्रेसी सांसदों के भयंकर हल्ले और हुड़दंग के कारन सुषमा स्वराज का सम्बोधन सुन पाना लगभग असम्भव हो गया.
मित्रों कांग्रेसी सांसदों के इस आचरण पर हमको आपको आश्चर्य नहीं करना चाहिए क्योंकि जिस पार्टी के नेताओं ने अपनी पार्टी का नेतृत्व करने के लिए पिछले 17 वर्षों में किसी भी भारतीय को विदेशी इटली मूल की एक अल्प शिक्षित औरत से अधिक योग्य नहीं समझा है उस पार्टी के सांसदों को पूरी विश्व की सराहना और सम्मान बटोर रही भारतीय गौरव गाथा यदि रास नहीं आई तो इसमें आश्चर्य कैसा.?