मंगलवार, 17 नवंबर 2015

40 देशों से हो रही है IS को फंडिंग - राष्ट्रपति पुतिन



रूसी राष्ट्रपति पुतिन का सनसनीखेज दावा,
'40 देशों से हो रही है IS को फंडिंग, जी-20 के देश भी शामिल'
Tuesday, November 17, 2015
ज़ी मीडिया ब्यूरो


नई दिल्ली: आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के पेरिस पर हुए हमले को लेकर रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सनसनीखेज दावा किया है। राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि आतंकी संगठन आईएस को कुछ देशों से पैसा पहुंच रहा है, जिसमें जी-20 से जुड़े देश भी शामिल हैं। उन्होंने दावा किया कि आईएस को फंडिंग करने की इस लिस्ट में कुल 40 देशों का नाम है। जिन देशों से पैसा पहुंच रहा है, उसे लेकर पुतिन ने खुफिया जानकारियां भी साझा कीं। पुतिन ने साथ ही कहा कि आईएस तेल का गैरकानूनी कारोबार करता है। इसे भी खत्म करने की जरूरत है।

पुतिन के मुताबिक आईएसआईएस पेट्रोलियम प्रॉडक्‍ट्स का बिजनेस करता है। रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि कई देश आईएस के साथ तेल का अवैध व्यापार भी का करते हैं और उन्हें अपनी हरकतों से बाज आना होगा।  सम्मेलन के बाद पुतिन ने कहा कि मैंने उदाहरणों के साथ बताया कि कैसे आईएस तक कुछ मुल्कों से पैसा पहुंच रहा है और इसमें हमारे साथी देश भी शामिल हैं। साथ ही कहा कि आईएस तेल का गैरकानूनी कारोबार करता है। इसे भी तुरंत प्रभाव से खत्म करने की जरूरत है।

इस बीच फ्रांस ने पेरिस हमलों के बाद रातभर में 128 छापे मारे है। फ्रांस के युद्धक विमानों ने उत्तरी सीरिया में इस्लामिक स्टेट के गढ रक्का में रात में फिर से हमले किए और एक कमांड सेंटर और प्रशिक्षण केंद्र को नष्ट कर दिया।  फ्रांसीसी सेना ने 24 घंटों में दूसरी बार सीरिया के रक्का में दाएश के खिलाफ हवाई हमले किए। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक 10 रफेल और मिराज 2000 लड़ाकू विमानों ने जीएमटी के अनुसार रात साढे बारह बजे 16 बम गिराए। इससे पहले रविवार को भी रक्का में जिहादी स्थल पर 10 युद्धक विमानों ने 20 बम गिराए थे। अमेरिका और फ्रांस ने भी हमलों का निशाना बनाए जाने वाले संभावित ठिकानों के संबंध में खुफिया सूचना का आदान प्रदान बढाने का निर्णय लिया है।

(एजेंसी इनपुट के साथ)
ज़ी मीडिया ब्‍यूरो