सोमवार, 28 दिसंबर 2015

विश्व के कुछ देशों में बलात्कार की सजा



With Thanks from Pramod Goswami ji's wall
=================================
�� विश्व के कुछ देशों में बलात्कार की सजा ��
��अमेरिका :
पीड़िता की उम्र और क्रूरता को देखकर उम्रकैद या 30 साल की सजा दी जाती है।
�� रूस :-
20 साल की कठोर सजा.
��चीन -
No Trial, मेडिकल जांच मे प्रमाणित होने के बाद मृत्यु दंड.
�� पोलेंड -
सुवरो से कटवा कर मौत Death thrown to Pigs
�� इराक -
पत्थरो से मार कर हत्या .Death by stone till last breath
�� ईरान -
24 घंटे के अंदर पत्थरो से मार दिया जाता है या फांसी
��दक्षिण अफ्रीका :
20 साल की जेल
�� सऊदी अरब :
फांसी या यौनांगों को काटने की सजा
�� मंगोलिया -
परिवार द्वारा बदले स्वरुप मृत्यु Death as revenge by family
��नीदरलैंड- :
ेंयौन अपराधों के लिए अलग-अलग सजा बताई गई है।
�� कतर -
हाथ,पैर,यौनांग काट कर पत्थर मार कर हत्या
��अफ़गिनिस्तान -
4 दिनो भीतर सर मे गोली मार दिया जाता है.
�� मलेसिया -
मृत्यु दंड Death Penalty
�� कुवैत -
सात दिनो के अंदर मौत की सजा.
��INDIA -
प्रदर्शन
धर्ना
जांच आयोग
समझौता
रिस्वत
लडकी की आलोचना
मिडिया ट्रायल
राजनीतिकरन
जातिकरन
जमानत
सालो बाद चार्जशिट
सालो तक मुकदमा
अपमान एवं जलालत
और
अंत मे दोषी का बच निकलना.
यदि आप सहमत है तो Share करे और आपके क्या लगता है क्या सजा होनी चाहिये इन दरिन्दो की... ?
एक रेड लाईट एरिया मे क्या खूब बात लिखी पाई गई..
"यहाँ सिर्फ जिस्म बिकता है,
ईमान खरीदना हो तो अगले चौक पर 'पुलिस स्टेशन' हैं |"..
आप चाहते हैं,
कि आपकी तानाशाही चले और कोई आपका विरोध न करे..
तो आप भारत में न्यायाधीश बन जाइये,..
आप चाहते हैं,
कि आप लोगों को बेवजह पीटें लेकिन कोई आपको कुछ न बोले..
तो आप पुलिस वाला बन जाइये,..
आप चाहते हैं,
कि आप एक से बढ़कर एक झूठ बोलें अदालत में,
लेकिन कोई आपको सजा न दे,
तो आप वकील बन जाइये,
..
आप चाहते हैं,
कि आप खूब लूट मार करें,
लेकिन कोई आपको डाकू न बोले,
तो आप भारत में राजनेता बन जाइये,
..
आप चाहते हैं,
कि आप दुनिया के हर सुख मांस, मदिरा, स्त्री
इत्यादि का आनंद लें,
लेकिन कोई आपको भोगी न कहे,
तो किसी भी धर्म के धर्मगुरु बन जाओ.
..
आप चाहते हैं,
कि आप किसी को भी बदनाम कर दें,
लेकिन आप पर कोई मुकदमा न हो,
तो मीडिया में रिपोर्टर बन जाइये,
....
यकीन मानिये..
कोई आप का बाल भी बाँका नहीं कर पाएगा.
भारत में,
हर 'गंदे' काम के लिए एक वैधानिक पद उपलब्ध हैं !
-------------

बलात्कार

एक ऐसा अपराध जो ना सिर्फ शरीर को चोट पहुंचता है अपितु आत्मा को भी तार तार कर देता है. पिछले कुछ वर्षों में बलात्कार के मामलों में बेतहाशा वृद्धि हुयी है.

खासकर हमारे देश को पूरे विश्व में बलात्कार का गढ़ कहकर प्रचारित किया जा रहा है. क्या ये एक तथ्य है या सिर्फ एक बनायीं हुयी खबर? और अगर ये तथ्य है तो और कौन कौन से ऐसे देश है जहाँ ये जघन्य अपराध रुकने का नाम ही नहीं ले रहा.

आपको बताते है दुनिया के देश जो है बलात्कार के मामलों में सबसे आगे और सबसे आश्चर्य की बात ये है की इन देशों में दुनिया के कुछ सबसे विकसित देश भी शामिल है.



इथोपिया andrea

औरत के साथ अपराध के मामले में इथोपिया बहुत आगे है, एक सर्वे के अनुसार 60% इथोपियन महिलाये शारीरिक शोषण का शिकार होती है

.इस देश में बलात्कार की दर बहुत ज्यादा है यहाँ की आबादी के अनुसार. इथोपिया में अफर्ण कर शादी करना भी आम बात है, इसमें अपहर्ता लड़की का अपहरण कर उसका तब तक बलात्कार करता है जब तक की वो गर्भवती नहीं हो जातीऔर ऐसा होने के बाद उस लड़की को अपहर्ता से शादी के लिए मजबूर होना पड़ता है.





श्री लंका sri lanka


बलात्कार सिर्फ महिलाओं का ही नहीं होता, पुरुषों का भी होता है. श्रीलंका में एक बड़ी संख्या में पुरुषों का बलात्कार होता है.

बलात्कार के शिकार अक्सर विद्रोही या आतंकी होने के संदेही पुरुष होते है और बलात्कार किया जाता है सेना के जवानों के द्वारा. एक रिपोर्ट के अनुसार बलत्कार के शिकार 96.5% पुरुष रिपोर्ट नहीं करवाते.

65% बलात्कारियों को बलात्कार करने के बाद किसी तरह का अफ़सोस नहीं होता और तकरीबन 11प्रतिशत ऐसे भी है जिन्होंने 4 या ज्यादा महिलाओं का बलात्कार किया है. है ना ये खौफनाक आंकड़े हमारे पडोसी देश के.




कनाडा canada

नाम सुनकर चौंक गए. एक विकसित देश होकर भी बलात्कार के मामले में इतना आगे.

कनाडा में रिपोर्ट्स के अनुसार 2,516,918 बलात्कार होते है जो कि असल बलात्कार का केवल 6% है. कनाडा की एक तिहाई महिलाएं कभी ना कभी शारीरिक शोषण या बलात्कार का शिकार हुयी है.

कोर्ट के अनुसार हर 17 में से एक लड़की का बलात्कार होता है.





फ्रांस france

प्यार के देश के नाम से मशहूर इस देश का नाम सुनकर मत चौंकिए बलात्कार के मामलों में आगे होने के अलावा एक और चौंका देने वाली बात फ्रांस के बारे में ये है 1980 तक फ्रांस में बलात्कार को अपराध नहीं माना जाता था.

बलात्कार और शोषण के विरुद्ध कानून बने भी ज्यादा समय नहीं बीता है. इस सन्दर्भ में पहला कानून 1992 में बना था और सबसे ताजा कानून करीबन 1-2 वर्ष पूर्व ही बना है.

सरकारी आंकड़ों के अनुसार फ्रांस में हर साल करीब 75000 बलात्कार होते है. जिनमे से केवल 10% की ही रिपोर्ट दर्ज होती है. महिलाओं के साथ कुल 3,771,850 अपराध होते है .





जर्मनी Germany

फ्रांस कनाडा और अब जर्मनी, जितने ज्यादा विकसित देश उतने ही मानवता रहित.

जर्मनी में बलात्कार की दर पिछले कुछ सालों में बहुत ज्यादा बढ़ी है. आंकड़ो के अनुसार पिछले कुछ सालों में करीब ढाई लाख बलात्कार पीड़ित मर चुकी है.

बलात्कार का सालाना आंकड़ा छ लाख के करीब है. दिनों दिन जर्मनी में ये समस्या बढती ही जा रही है.





यूनाइटेड किंगडम UnitedKingdom


विश्व के सबसे पुराने और सबसे विकसित देशों में से एक और साथ ही साथ अपराध के मामलों में भी अग्रणी. कमाल की बात है जिस देश पर रानी का राज है वहीँ पर महिलाएं सुरक्षित नहीं.

सरकारी अंडों के अनुसार पिछले वर्ष इंग्लैंड और वेल्स में करीब 85000 महिलाओं का बलात्कार हुआ और हर साल करीब चार लाख महिलाये शारीरिक शोषण का शिकार होती है और 5 में से 1 महिला 16 वर्ष की उम्र से शारीरिक रूप से शोषण का शिकार बनती है.

ये आंकड़े बताते है की बलात्कार को रोक पाने  में ब्रिटेन किस प्रकार नाकाम रहा है.




भारत india

बहुत से लोग इंतज़ार कर रहे थे अपने देश का नाम आने का, इंतज़ार करें भी तो क्यों नहीं जब पूरे विश्व में बलात्कार का गढ़ बताया जा रहा है इस देश को.

बलात्कार की समस्या भारत में बहुत तेज़ी से बढ़ी है खासकर पिछले पांच सालों में.2012 में करीब 25000 बलात्कार के मालों की रिपोर्ट हुयी थी

पर असली आंकडा इस से कहीं ज्यादा है. सरकारी सूत्रों का माने तो ये संख्या बलात्कार के मामलों की मात्र 2 प्रतिशत है. भारत में होने वाले अधिकतर बलात्कार के मामलों में बलात्कारी महिला का जान पहचान वाला ही होता है जैसे की परिवार का सदस्य, रिश्तेदार.

दोस्त , सहकर्मी या पडोसी. भारत में हर 22 मिनिट में एक बलात्कार होता है, ये एक गहन चिंता का विषय है और कड़े कानून और लड़के लड़कियों में जागरूकता लाकर ही इस पर लगाम कासी जा सकती है.





स्वीडन Sweden

स्वीडन को सबसे सुरक्षित देशों में से एक माना जाता है पर जहाँ बात महिलाओं की सुरक्षा की बात आती है तो ये देश बलात्कार के मामलों  में यूरोप में सबसे आगे और विश्व में भी चोटी के तीन देशों में आता है.

हर एक लाख पर 63 महिलाएं बलात्कार का शिकार होती है. पिछले दस सालों में इस देश में बलात्कार की दर 58% तक बढ़ी है.





साउथ अफ्रीका southafrica

ये देश बलात्कार के मामलों में बहुत आगे है, विश्व में सबसे अधिक बलात्कार यहीं होते है सिर्फ एक देश है जो अफ्रीका से आगे है.

एक सर्वे के मुताबिक हर तीन में से एक लड़की/महिला बलात्कार की शिकार होती है और तकरीबन 25% पुरुष है जिन्होंने कभी ना कभी किसी का बलात्कार किया है और इनमें से आधे ऐसे भी है जिन्होंने एक से अधिक महिला का बलात्कार किया है.

दक्षिण अफ्रीका बच्चों के बलात्कार के मामलों में दुनिया में सबसे आगे है और सबसे बुरी बात ये है कि बलात्कार के आरोप में पकडे जाने पर केवल दो साल की सजा का प्रावधान है .





अमेरिका (USA)

विश्व शक्ति, दुनिया का सबसे शक्तिशाली और विकसित देश. कोई सोच सकता है की इस सूचि में भी ये देश सबसे ऊपर होगा.

हाँ यकीन करना मुश्किल है पर अमेरिका बलात्कार के मामलों में सबसे आगे है. बलात्कार के पीड़ितों में 91% महिलाएं होती है और करीब 9% पुरुष. सरकारी सर्वे के अनुसार 6 में से 1 अमेरिकी महिला और 33 में से 1 अमेरिकी पुरुष अपने जीवनकाल में कभी ना कभी शारीरिक शोषण या बलात्कार का शिकार होता है.

USA

नए सर्वेक्षणों के अनुसार अफ्रीका ने बलात्कार के मामले में अमेरिका को पीछे छोड़ दिया है.

बलात्कार के  मामलों में कुछ हद तक काबू पाकर अब अमेरिका, अफ्रीका और स्वीडन के बाद तीसरे स्थान पर है.

देखा किस प्रकार दुनिया के अविकसित, विकासशील और विकसित सभी प्रक्कर के देश इस अपराध की रोकथाम करने में नाकाम रहे है. बलात्कार की समस्या किसी देश किआर्थिक हालत या सांस्कृतिक सोच पर निर्भर नहीं करती. बलात्कार एक कुंठित और घिनौनी मानसिकता से पीड़ित व्यक्ति द्वारा किया गया अपराध है.

और इसे रोकने का एक ही तरीका हो सकता है कठोर कानून और लोगों में जागरूकता जगाना और विश्वास दिलाना की इस अपराध को करने वालों को बक्शा नहीं जायेगा.