मंगलवार, 20 दिसंबर 2016

ओम शांति!! शांति!! शांति !!






ओम शांति!! शांति!! शांति !!

कबीरा जब हम पैदा हुए, जग हँसे हम रोये !
ऐसी करनी कर चलो, हम हँसे जग रोये !!
एक व्यक्ति सारी उम्र माया मोह तेरा मेरा में गुजार देता हे!! जाता क्या है साथ ???




दुनिया से जानेवाले, जाने चले जाते हैं कहाँ,
कैसे ढूंढे कोई उनको, नहीं कदमों के भी निशां

जाने है वो  कौन नगरिया,
आये जाये खत ना खबरिया,
आये जब जब उनकी यादें,
आये होठों पे फ़रियादें,
जाके फिर ना आने वाले
जाने चले जाते हैं कहाँ ...

दुनिया से जानेवाले, जाने चले जाते हैं कहाँ,
कैसे ढूंढे कोई उनको, नहीं कदमों के भी निशां
जाने चले जाते हैं कहाँ ...


सब ठाठ पड़ा रह जावेगा  ,
जब लाद चलेगा बंजारा ,
धन तेरे काम न आवेगा ,
जब लाद  चलेगा बंजारा।

जो पाया है वो बाँट के खा ,
कंगाल न कर कंगाल न हो ,
जो सब का हाल किया तूने ,
एक रोज़ वो तेरा हाल न हो ,
इक हाथ कटे  इक हाथ चले ,
हो जावे सुखी ये जग सारा।

सब ठाठ पडा रह  जावेगा ,
जब लाद चलेगा बंजारा।




 आये है तो जायेंगे, राजा रंक फकीर | 
एक सिंहासन चड़ी चले, एक बांधे जंजीर ||


राहुल गाँधी की मोदी के कपड़ों पर टिप्पणी : भड़के ट्विटर यूजर्स







राहुल गांधी पर भड़के ट्विटर यूजर्स, कहा- कपड़ों की चिंता ऐसे करते हो, जैसे तुम्हें ही धोने पड़ते हों

कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेकर निशाना साधा।

जनसत्ता ऑनलाइन
December 20, 2016
http://www.jansatta.com


कांग्रेस पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम लेकर निशाना साधा। राहुल गांधी ने मंगलवार (20 दिसंबर) को ट्वीट किया, ‘RBI उसी तरीके से नियम बदल रही है, जिस तरीके से मोदीजी कपड़े बदलते हैं।’ हालांकि, लोगों को उनका यह ट्वीट कोई खास अच्छा नहीं लगा। काफी सारे लोगों ने राहुल गांधी का मजाक बनाया। एक ने लिखा, ‘मोदी जी के कपड़ों की चिंता ऐसे करते हैं लोग, जैसे की मोदी जी के सारे कपड़े उन्हें ही धोने पड़ते हों’, दूसरे ने राहुल गांधी को ‘पप्पू’ बताते हुए लिखा, ‘और पप्पू उसी तरह रोज गुब्बारे फुला के फोड़ रहे है’, तीसरे ने लिखा, ‘पहनावा सुन्दर-तन सुन्दर,तन सुन्दर-मन सुन्दर,मन सुन्दर- आत्मा सुन्दर,आत्मा सुन्दर-निर्णय सुन्दर। यही खासियत है नरेंद्र मोदी की’, वहीं अगले ने चंडीगढ़ निकाय चुनावों का जिक्र करते हुए लिखा, ‘चंडीगढ़ के चुनावों के नतीजे तो सुन लिए होगे पता नहीं कांग्रेस कहां तक नीचे गिरेगी लगता है कांग्रेस पंजाब भी हारेगी।’

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया रोज नियम बदलते रहे हैं। गौरतलब है कि केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने 500 और 1000 रुपये पुराने नोटों को बैंकों में जमा कराने को लेकर 19 दिसंबर को नए निर्देश जारी किए थे। लेकिन अगले ही दिन सरकार अपने फैसले से पलट गई। 19 दिसंबर को जारी निर्देश में कहा गया था कि अब तक रकम जमा क्‍यों नहीं कराई यह भी बताया जाए। लेकिन मंगलवार (20 दिसंबर) को जमा क्यों नहीं कराने के सवाल की शर्त को वापस ले लिया गया। टीवी रिपोर्ट्स के अनुसार अब 5000 रुपये से ज्‍यादा की रकम जमा कराने पर सवाल नहीं किया जाएगा।
लगातार बदले जा रहे नियमों को लेकर राज्यसभा से भाजपा सांसद स्वपन दास गुप्ता ने सरकार की आलोचना की थी। दासगुप्ता ने ट्वीट किया था, ‘पुराने नोटों के 30 दिसंबर तक जमाए कराने जाने पर नई पाबंदी गैर-जरूरी है। इससे लोगों का सरकार में भरोसा कम होगा।’

चंडीगढ़: निगम चुनावों में भाजपा की भारी जीत, कांग्रेस का सूपड़ा साफ





चंडीगढ़ निकाय चुनाव में बीजेपी की जीत 
प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले पर जनता की मुहर: अमित शाह
By: एजेंसी | uesday, 20 December 2016

नई दिल्ली: चंडीगढ़ निगम चुनावों में बीजेपी को मिली शानदार सफलता पर पार्टी कार्यकर्ताओं और संगठन के पदाधिकारियों को बधाई देते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि नोटबंदी के फैसले के बाद संपन्न हुए चुनावों में देश की जनता ने प्रधानमंत्री के फैसले पर मुहर लगाने का काम किया है.

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्त्व में केंद्र की सरकार की विकासोन्मुखी नीतियों का जनता ने ह्रदय से समर्थन किया है. नोटबंदी के फैसले के बाद संपन्न हुए राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र के स्थानीय निकाय के चुनावों और विधान सभा और लोक-सभा उप-चुनावों के परिणाम से यह स्पष्ट हो गया है कि विपक्ष नोटबंदी के फैसले का राजीतिकरण करना चाहता है और इस पर राजनीति कर रहा है.

बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि नोटबंदी के फैसले के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों में हुए सभी चुनावों में देश की जनता ने विपक्ष को यह अच्छे से समझया है कि जनता का मूड क्या है और राजनीति की दिशा क्या है .

उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की अभूतपूर्व विजय. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन और बीजेपी की काम करने की राजनीति में देश की जनता की अटूट आस्था और विश्वास का एक और उदाहरण है .

अमित शाह ने कहा कि देश के सभी हिस्सों में जहां-जहां भी नोटबंदी के फैसले के बाद चुनाव हुए हैं और जनता ने बीजेपी को प्रचंड विजय दिलाते हुए प्रधानमंत्री के फैसले पर जो मुहर लगाई है, मैं इसके लिए एक बार फिर से उन्हें धन्यवाद देता हूं और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं .

--------------------------------






चंडीगढ़: निगम चुनावों में 
भाजपा की भारी जीत, कांग्रेस का सूपड़ा साफ

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और शिरोमनी अकाली दल(एसएडी) गठबंधन ने चंडीगढ़ नगर-निगम चुनाव में बहुमत के साथ जीत हासिल की है.
समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक बीजेपी-एसएडी गठबंधन ने 26 वार्ड में से 21 वार्ड में जीत हासिल की है. इसमें भारतीय जनता पार्टी के प्रतिनिधि 20 वार्डों में जीते.
ये चुनाव भले नगर निगम का रहा हो लेकिन इसका सांकेतिक महत्व बहुत ज़्यादा है, क्योंकि नोटबंदी के फ़ैसले के बाद भारतीय जनता पार्टी लोगों का भरोसा जीतने में कामयाब रही है.
इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी महज चार वार्डों में जीत हासिल कर सकी और एक वॉर्ड में स्वतंत्र उम्मीदवार चुनाव जीतने में कामयाब रहा.

इस चुनाव में जीत हासिल करने वाले मुख्य चेहरों में बीजेपी के मेयर अरुण सूद और कांग्रेस नेता देविंदर सिंह बाबला शामिल हैं.
चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में इस बार 59.54 प्रतिशत मत डाले गए. चुनाव में कुल 122 उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाई, जिसमें 67 स्वतंत्र उम्मीदवार थे.
चुनाव में कांग्रेस और बीजेपी ने सभी 26 वार्डों में अपने उम्मीदवार उतारे थे जबकि बहुजन समाजवादी पार्टी ने 17 वार्डों में उम्मीदवार खड़े किए थे.

पिछली बार हुए नगर निगम चुनाव में बीजेपी के 15 पार्षद थे, जबकि नौ कांग्रेस और एक स्वतंत्र पार्षद थे. कांग्रेस ने इस चुनाव में नोटबंदी का मुद्दा उठाया था लेकिन वो काम नहीं आया.

========================


चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में BJP की भारी जीत, कांग्रेस का सूपड़ा साफ
By: एबीपी न्यूज़ | Tuesday, 20 December 2016

चंडीगढ़: नोटबंदी के शोर और परेशानी के बीच चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में बीजेपी ने बड़ी जीत दर्ज की है. BJP ने क्लीन स्वीप करते हुए कांग्रेस का सूपड़ा साफ कर दिया है.

चंडीगढ़ नगर निगम के कुल 26 सीटों में से 20 सीटों पर अकेले बीजेपी ने जीत दर्ज की है. बीजेपी की सहयोगी अकाली दल ने एक सीट  गठबंधन   कांग्रेस महज़ 4 सीटों पर सिमट गई है. एक सीट निर्दलीय की झोली में गई है.

चंडीगढ़ नगर निगम के चुनावों में बीजेपी की जीत इसलिए अहम है कि क्योंकि अगले साल सूबे में विधानसभा चुनाव है. ऐसे में बीजेपी की ये जीत सत्ता में वापसी की उम्मीद लगा बैठे कांग्रेस के लिए बड़ा धक्का है. 18 दिसंबर को चंडीगढ़ नगर निगम की 26 सीटों के लिए वोट डाले गए थे.

जीत पर जश्न

चंडीगढ़ में जीत पर बीजेपी अक्ष्यक्ष अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को बधाई दी. उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे हों या स्थानीय चुनाव के नतीजे, सभी में बीजेपी की जीत बताती है कि नोटबंदी के फैसलै पर जनता उनके साथ है.

इससे पहले, चंडीगढ़ से बीजेपी सांसद किरण खेर ने कहा, ”ये मोदी जी की जीत है. हम लोगों ने मोदी सरकार की योजनाओं को अच्छे से लागू किया. नोटबंदी के समर्थन में लोगों ने वोट दिया है.” उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ नगर निगम भी अब कांग्रेस मुक्त है. भगवान करे ऐसी ही जीत पंजाब चुनाव में भी मिले.

राजस्थान में सरकार के पांच साल पूरे होने से पहले ही एक लाख करोड़ रुपए की सड़कें बना देंगे : गडकरी



एक नए राजस्थान की ओर
2016-08-18


केन्द्रीय परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि राजस्थान में सरकार के पांच साल पूरे होने से पहले ही एक लाख करोड़ रुपए की सड़कें बना देंगे।
श्रीगंगानगर
केन्द्रीय परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि राजस्थान में सरकार के पांच साल पूरे होने से पहले ही एक लाख करोड़ रुपए की सड़कें बना देंगे। गडकरी ने कहा कि हमारी सरकार ने राजस्थान की अनेक सड़कों को राष्ट्रीय राजमार्ग में परिवर्तित किया है।

सड़क विकास के लिए भारतमाला योजना का निर्माण किया गया। हमारे देश की सीमाएं सुरक्षित हों,इसके लिए भी सड़क विकास जरूरी है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में 1320 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग बनाए गए हैं, जिन पर 10 हजार करोड़ खर्च किए गए हैं। भारतमाला योजना में श्रीगंगानगर से  दंतौर तक 253 किलोमीटर नया हाइवे बनाया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने दंतौर, नाचना जैसलमेर क्षेत्र को भी भारतमाला योजना में स्वीकृत करने की घोषणा की।

2105 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास
नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री ने सूरतगढ़ में 2105.30 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री ने सूरतगढ़ से अनूपगढ़ तक की दस मीटर चौड़ाई की सीमेंट कंकरीट सडक का शिलान्यास किया। इस 74 किलोमीटर लंबाई की सड़क के निर्माण पर 291.20 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसके अलावा मानकसर चौराहे पर ही 383.40 करोड़ रुपए की लागत से राष्ट्रीय राजमार्ग 62 पर सूरतगढ़-श्रीगंगानगर सड़क दो लेन मय पटरी उन्नयन कार्य का लोकार्पण किया। मानकसर चौराहे से पहले बाइपास पर सूरतगढ़ शहर के लिए सीवरेज परियोजना प्रथम चरण 103.96 करोड़ रुपए के कार्य का शिलान्यास किया।